Friday, 10 November 2017

कभी कभी वक़्त ऐसा खेल खेलता है...

कभी कभी वक़्त ऐसा खेल खेलता है...!!!

👉कभी कभी वक्त ऐसा खेल खेलता है..!!
कि हम जो सोचें उसे पाने के लिए भले ही पूरी जी-जान लगा दें लेकिन वो फिर भी नहीं मिलता।
तो कभी मात्र हमारे चाहने से ही ख्वाहिश पूरी हो जाती है।
.
जब आप फ्री हों तो अपने दोस्तों से लिमिट में ही बातें करना यारों...!!
क्योंकि busy होने पर आप उनसे ज्यादा बात नही कर पाओगे और वो तुम पहले से काफी बदल गए हो वाली बात बोल सकते हैं।
.
अगर आप ज्यादा पढ़ लिख गए हो और बेहतर जॉब की तलाश में घर पर ही बैठे हो तो ये भी आपके आत्मविश्वास को कमजोर करता है;
इससे अच्छा है कि आप छोटी मोटी जॉब करने के साथ ही बेहतर जॉब की भी तलाश कर सकते हो।
और अपने आपको कोसने से बच सकते हो।
.
लोग बेरोजगार हैं क्योंकि वो शुरुआत से ही बेहतर सैलरी की उम्मीद करते हैं।
अगर जॉब आपकी पसंद की है तो शुरुआत मुफ्त काम करने से भी कर सकते हो।
.
आज हर किसी कंपनी को फ्रेशर से ज्यादा जरूरत experience वाले employee की है।
और किसी कंपनी से experience तभी लिया जा सकता है जब आप मुफ्त काम करने की हिम्मत रखते हों।
.
कभी कभी कोई शख्स हमसे इतना प्यार करता है कि वो हमेशा हमसे contact में रहना चाहता है, हमसे बात करना चाहता है...!!
शुरुआत में ये हमें अच्छा लगता है लेकिन कुछ समय बाद उसका call आना, हमारे आंखों की किरकिरी बन जाता है।
.
चलना है तो अपने हिसाब से चलो, दुनियाँ का कुछ भरोसा नहीं, वो अपना angle कभी भी change कर सकती है...!!!
अगर आप हमेशा हंसकर जीवन जीते हो तो वो आपको sincere होने की सलाह देगी।
जब आप sincere हो जाओगे...तो कभी हंस भी लिया करो; वाली बात बोलेगी।
.
जय हिन्द।
.
इन्हें भी पढ़ें :-

4 comments:

  1. Ha,ye shi h or shayad eske piche apka gehra anubhav chhupa hua h.

    ReplyDelete
    Replies
    1. बिल्कुल सही बोले दीपक जी, ये thoughts मैं नहीं, मेरे अनुभव बोले हैं।

      Delete
    2. This comment has been removed by the author.

      Delete
    3. कभी कभी वक्त ऐसा खेल खेलता है..!!
      कि हम जो सोचें उसे पाने के लिए भले ही पूरी जी-जान लगा दें लेकिन वो फिर भी नहीं मिलता।
      तो कभी मात्र हमारे चाहने से ही ख्वाहिश पूरी हो जाती है।
      True

      Delete